हथिनी और गाय के बाद सियार को विस्फोटक से मारने की वारदात आई सामने
Jackal killed by explosive: अभी तक आपने केरल की विनायकी हथिनी एवं हिमाचल प्रदेश में गाय को विस्फोटक से मारने की खबर सुनी या पढ़ी होगी लेकिन अब तमिलनाडु से ऐसे ही भयानक वारदात सामने आई है जहाँ पर एक सियार को विस्फोटक के ज़रिये जान से मार डाला गया है।
 
तमिलनाडु के वन विभाग ने त्रिखी गांव में एक सियार को मारने के लिए 12 जिप्सियों को मांस में विस्फोटक पैक करके और उसका मुंह उड़ाते हुए गिरफ्तार किया है।

वन विभाग के एक अधिकारी ने तिरुचिरापल्ली या त्रिची से फोन पर आईएएनएस न्यूज़ एजेंसी को बताया –

“12 लोग एक गाँव में शहद इकट्ठा करने के लिए गए थे और उन लोगों ने एक सियार को घूमते हुए पाया था। इसके मांस और उसके दांतों का शिकार करने के लिए आरोपियों ने मांस के टुकड़ों के अंदर विस्फोटक भरे थे और कई जगहों पर उसे फ़ेंक दिया था ताकि सियार उन्हें घूमते हुए खा ले।”

उन्होंने कहा, ” इस्तेमाल किये हुए बम उसी तरह के होते हैं जिसे ‘प्याज बम’ कहा जाता है जो दिवाली के दौरान फट जाते हैं। विस्फोटक में रसायन भरे होते हैं और जब दबाव डाला जाता है तो यह फट जाएगा।”

उन्होंने कहा कि जब जानवर मांस काटता है, तो बम फटने से उसके जबड़े फट जाते हैं। हाल ही में केरल में एक गर्भवती हाथी की मौत हो गई जब उसने विस्फोटकों से भरे एक फल को खा लिया।

वन अधिकारी के अनुसार उन शिकारियों ने रात में सियार को मार दिया था और वे सुबह एक चाय की दुकान पर चाय पी रहे थे और मारा हुआ सियार उनके बैग में था।

जीयापुरम स्टेशन से जुड़े एक पुलिस कांस्टेबल ने आरोपियों से पूछताछ की और उनके बैग की जांच करने पर उन्हें मृत सियार मिला।

जीयापुरम पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि पूछताछ के बाद आरोपी शिकारियों को वन विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया गया था। इसके घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है लोगों ने सियार के प्रति हमदर्दी दिखते हुए #justiceforjackal हैशटैग के साथ ऑनलाइन कैंपेन चलाया जिसमें अपराधियों को सख्त सजा देने की मांग के साथ ख़त्म होती मानवता पर रोष एवं अफ़सोस भी जताया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *