केंद्र सरकार 30 सालो के लिए लीज पर देगी ताजमहल सहित 100 अन्य बड़ी ऐतिहासिक इमारतें

ऐतिहासिक इमारतों सहित स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स भी है लिस्ट में शामिल

केंद्र सरकार खेल स्टेडियमों, राष्ट्रीय उद्यानों और ऐतिहासिक भवनों को लीज पर देकर लगभग 25 हजार करोड़ रुपये कमाने की योजना को अंतिम रूप देने की तैयारी में है। सूत्रों के अनुसार देश के लगभग 100 ऐतिहासिक भवन जिनमें ताज़महल भी शामिल है भी शामिल हैं, उन सभी को लीज पर देने की केंद्र सरकार पूरी तैयारी कर चुकी हैं।

खबरों के अनुसार सरकार की तरफ से मुंबई की बौद्ध कनेरी गुफाएं, नई दिल्ली म्यूनिसिपल कमेटी के अंतर्गत आने वाली लोधी गार्डन की कई इमारतों को भी लीज पर देने का विचार है। कई कंपनियों के साथ सरकार की इस मुद्दे पर बातचीत भी चल रही है।

ऐतिहासिक इमारतों के अलावा सरकार की तरफ से इंदिरा गांधी स्पोर्ट्स स्टेडियम, मेजर ध्यान चंद नेशनल स्टेडियम, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्विमिंग पूल कॉम्प्लेक्स तथा डॉ करणी सिंह शूटिंग रेंज के अलावा जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम को भी लीज पर देने की तैयारी है।

ऐसे में केंद्र की भाजपा सरकार का कहना है कि ये स्टेडियम पूरे साल खाली पड़े रहते हैं और इनकी देखभाल करनी पड़ती है। साथ ही इनकी मेंटेनेंस पर भी काफी पैसा खर्च करना पड़ता हैं।

इस पर खेल मंत्रालय की तरफ से भी यही कहा गया है कि स्टेडियमों को लीज पर देने से इनकी इमारतों को संभालने में मदद मिलेगी। इसलिए सरकार की योजना है कि इन स्टेडियमों को भी 30 साल के लिए लीज पर दिया जाएगा।

कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से रविवार को ट्वीट किया गया कि ‘मैं देश नहीं बिकने दूंगा’ का नारा लगाने वाले लोग आज देश का सब कुछ बेचने और लीज पर देने को आमादा हैं। यह बड़े शर्म की बात है। साथ ही एक तस्वीर भी पोस्ट की गयी है जिसमें लिखा है कि ये सब वे लोग कर रहे हैं जिन्होंने कहा था कि मैं देश नहीं बिकने दूंगा। बताते चलें कि ‘विरासत अपनाएं योजना’ के तहत सरकार की तरफ से दिल्ली का ऐतिहासिक लाल किला पहले ही डालमिया ग्रुप को दिया जा चुका है और अब सरकार के निशाने पर देश की अन्य बड़ी ऐतिहासिक इमारतें और स्पोर्टस कॉम्प्लेक्स आ चुके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *