AIIMS के डायरेक्टर ने दी जानकारी- कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद भी हो सकता है संक्रमण का खतरा।

टीकाकरण के बाद लगभग 14 दिनों में स्ट्रोंग होगा इम्युनिटी सिस्टम…

हाल ही में भारत मे 2 कोरोना वेक्सीनो को टायल की अनुमति मिली है। जिससे देश भर में संक्रमण से उभरने की न केवल एक उम्मीद की किरण दिखाई है, बल्कि लोगों ने इसके लिए खुशी ज़ाहिर करते हुए साइंटिस्टों की काफी तारीफ भी की हैं।

लेकिन आपको बता दे कि रविवार को AIIMS डॉयरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने एक खास बयान जारी करते हुए कहा – “वैक्सीन लगने के बाद किसी को भी यह नहीं सोचना चाहिए कि उस व्यक्ति की इम्युनिटी फौरन ठीक हो गई। ऐसे में हमें मास्क लगाना, लगातार हाथ धोना और सोशल डिस्टैंसिंग बनाए रखना होगा। ये सारी चीजें साथ-साथ चलती रहेंगी। ऐसा इसलिए, क्योंकि टीके के दो डोज के करीब दो हफ्ते बाद ही इम्युनिटी पूरी तरह से बनेगी।”

उन्होंने साफ किया है कि कोरोना वेक्सीन लगवाने के लगभग 14 दिन बाद इम्युनिटी सिस्टम स्ट्रोंग होगा। तब तक इस बीच हमे पूरी सुरक्षा का ध्यान रखना होगा। क्योंकि इस बीच भी किसी व्यक्ति को महामारी पकड़ सकती हैं। इतना ही नहीं संक्रमित व्यक्ति अन्य परिवार या बाहर के लोंगो को भी संक्रमण ट्रांसफर कर सकता है।

हाँ लेकिन कोरोना वेक्सीन लगवाने के बाद व्यक्ति में हल्के-फुल्के ही लक्षण दिखेगें, संक्रमित की हालत इतनी नही बिगड़ेगी की उसे ICU तक ले जाने की जरूरत पड़े। वैक्सीन लगवाने के बाद भी यदि किसी को संक्रमण घेरता है तो उसका इलाज घर मे ही किया जाना संभव होगा।

आपको बता दे की ये कोरोना वेक्सीन आपका इम्युनिटी सिस्टम बनाने में मदद करती हैं और इम्युनिटी सिस्टम को कभी भी एक दिन में स्ट्रोंग नही किया जा सकता। इस प्रकिया में समय लगता हैं और यही समय वेक्सीन को लगेगा।

इससे ये तो तय है कि देश भर में वैश्विक महामारी से होने वाली मृत्यु दर कम होंगी। फिलहाल देश में  संक्रमण से ठीक होने की दर बढ़कर 96.42 प्रतिशत हो गई है। इसके साथ ही संक्रमण से मृत्यु दर घटकर 1.44 प्रतिशत रह गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *